App Info, Application Details, Mobile Apps, New Applications, New Software, IT information, New Mobile Application Info.

गुरुवार, 3 दिसंबर 2020

Google DOC से कैसे आप फ्रॉड के शिकार हो सकते है...?

 

Google DOC, Google Document
Google DOC

Google DOC से सावधान रहे :


     हेलो दोस्तों, आज आपको Google DOC से किस तरह से आपके साथ फ्रॉड किया जा सकता है...? उसके बारे में बताना चाहूंगा। मेरी आपसे विनती है की यह जानकारियां जो कुछ भी दी जा रही है वह आम जनता को जागृत करने के लिए दी जा रही है, अगर आप इस जानकारी का गलत इस्तेमाल करेंगे तो आप साईबर क्राइम के गुन्हे में आ सकते है इसलिए इस जानकारियां को जान कर सैफ और सिक्योर रहे, और इस जानकारियां से कोई भी गलत कार्य ना करे।

 

     तो दोस्तों, चलते हे हमारे Google DOC से कैसे आपके साथ धोखा किया जा सकता है....?

 

     अब काफी सारे लोग जानते ही होंगे की अबसे अपना पर्सनल डॉक्यूमेंट, ID Proof, और OTP को शेर नहीं करना है। और Anydesk, Teamviewer जैसे रिमोट एप्लीकेशन का इस्तेमाल नहीं करना है, तो फ्रॉड व्यक्ति को यह मालूम हो गया है, तो वह एक स्टेप की और आगे बढ़ गया वह अब Google DOC से फ्रॉड करने लगा है।

 

Google DOC :

 

     तो Google DOC जिसका पूर्ण नाम Google Document है, जिसे आप अपने मोबाइल में Google Play Store पर आसनी से मिल जाता है। इसमें फ्रॉड करने वाला व्यक्ति उसके माध्यम से एक लिंक आपको SMS करते है, और SMS आने वाले नंबर और उसकी लिंक ऐसी होती है, जो दिखने में बिलकुल कंपनी जैसी और सैफ लगती है। उस मेसेज में कुछ इसतरह का Thanks for alerting us. We are Sorry for the inconvenience. Please click the link below. लिख कर भेजते है, और नीचे दी गई लिंक पर आप क्लिक करते है, जैसे ही उस लिंक पर क्लिक करते है, तो आपको उसमे फॉर्म भरके सबमिट करने को कहता है, और उस फॉर्म में निर्दोष व्यक्ति उसकी सभी पर्सनल डिटेल्स में मोबाइल नंबर, बैंक की माहिती, सभी कार्ड के नंबर के साथ-साथ सभी माहिती भेज देता है, इसमें आपको OTP लिखने को नहीं कहेगा, और इसमें आपको वेरिफाई ट्रांजेक्शन पासवर्ड और Bank ID भी भरवाएगा। अब आपने यह सभी माहिती भूल कर भी भेज दी, तो आपके साथ किसी भी प्रकार का धोखा हो सकता है, और लोगो के साथ धोखा होता भी है। तो दोस्तों यह जो निर्दोष व्यक्ति ने भरा हुआ फॉर्म उस फ्रॉड करने वाला व्यक्ति के पास जाता है, और वह निर्दोष व्यक्ति को लगता है, की यह फॉर्म मेने कंपनी में भेजा है। 

 

     तो दोस्तों, अब वह फ्रॉड व्यक्ति आपके नेट बैंकिंग का इस्तेमाल करके फॉरेन (परदेश) में आपके पैसे ट्रान्सफर करेगा इसमें आपके OTP की जरुरत नहीं होती है। क्योंकि, फ्रॉड करने वाला व्यक्ति आपके मोबाइल नंबर को हैक करके आपको बिना पता चले उसको OTP मालूम हो जाता है। तो इसतरह से आपके बैंक अकाउंट को खाली कर सकता है, तो इस तरह एक निर्दोष व्यक्ति उसने पूरी जिंदगी मेहनत से कमाए हुए पैसे एक पल में वह फ्रॉड व्यक्ति चुरा लेता है, और आप ठगी के शिकार हो जाते है। - Google DOC

 

Google DOC Conclusion :

 

     तो दोस्तों में यह कहना चाहूंगा की किसी अनजान जगह या व्यक्ति को आप खुद की पर्सनल माहिती, आपका पहचान प्रूफ, बैंक की कोई माहिती, किसी डेबिट या क्रेडिट कार्ड की माहिती, नेट बैंकिंग का ID और पासवर्ड, आपने बैंक में रजिस्टर किया हुआ मोबाइल नंबर और E-mail ID, आदि-आदि माहिती को लिख कर और कह कर किसी अनजान व्यक्ति को ना बताए। इसके आलावा आप सोशियल मिडिया ऍप्लिकेशन्स में रजिस्टर करने के लिए भी अपना बैंक अकाउंट वाला E-mail ID और मोबाइल नंबर से रजिस्टर नहीं करे, आप किसी दूसरी E-mail ID और दूसरे मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करे, जो आपने खुद ने बनाई हो. - Google DOC  

 

     तो दोस्तों, आशा रखता हूँ, की इस जानकारी से आप समझ गए होंगे और इस माहिती से सुरक्षित भी रहेंगे।

 

     जय हिन्द, जय भारत…

 

     आपका धन्यवाद....।🙏🙏

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Please do not enter any spam link in the comment box.